Tag: Happiness Poetry

True Happiness Poems – चलो आज कुछ – Poem on Happiness

True Happiness Poems – Poem on Happiness True Happiness Poems चलो आज कुछ धुप गुनगुनाते है कुछ हवाओ से साज़ लेके कुछ फ़िज़ाओ के सरगम चुराके चलो कोई गीत बन जाये। चलो उन पगडंडियो में खो जाये कुछ धुंध चुपके से रख ले जैब में जब भी तू साथ ना हो तब निकाल लूंगा ये

Khushi Poem – तेरी खुशी के लिए – Khushi Poem In Hindi

Khushi Poem – Khushi Poem In Hindi Khushi Poem तेरी खुशी के लिए, मैं हर हद से गुज़र जाऊँगा, दूर चला गया, तो फिर लौटकर न आऊँगा, तू खुश है! मुझसे दूरी बनाने में, तो यही सही! मैं तेरी खुशियों के खातिर, खुद ही दूर चला जाऊँगा। मुझे लगा था तू औरों सी न होगी,

Happiness Quotes in Hindi – मुस्कुराते रहिए – Happiness Poem

Happiness Quotes in Hindi Happiness Quotes ज़िंदगी के तमाम साज़-ओ-संगीत को गुनगुनाते रहिए, वक्त कैसा भी हो, आप हर वक्त मुस्कुराते रहिए। ख़ुशबू भी आप में, रंग भी आप में, नशा भी आप में, इतने हुनरमंद हैं आप, हम को भी कुछ सिखाते रहिए। तुम्हारी दुआओं का असर हो रहा है, कि ज़हर भी मुझ

Happiness Poem – कब मिलती है खुशी तुम्हे – Hindi Poem Love

Happiness Poem – Hindi Poem Love Happiness Poem कब मिलती है खुशी तुम्हें, जानना चाहती हूं तुमसे, हाँ, होती है परिभाषा अलग अलग सुख और खुशी की। कुछ विचित्र और विक्षिप्त आदतें है सुख पाने की। बचपन मे अक्सर गिरने से, चोट लग जाया करती थी, हमेशा से घुटने चोटिल, घायल ही रहते है, उनसे

Pin It on Pinterest