Hindi Prem Kavita – लाचार मुहब्बत – Mohabbat Poem In Hindi

Hindi Prem Kavita – Mohabbat Poem In Hindi Hindi Prem Kavita हर सफर मेरा ,नाउम्मीद का सहारा बन बैठा! जिसके इंतजार मे थे बेसहारा बन बैठा! किस्मत की लकिरों को तकते रहे हम, वो किसी और का हमसफर बन बैठा!! खामोशियों ने तान रखीं थी चादर, प्यार मेरा किसी और का सहारा बन बैठा!! कभी

Heartbeat Poem – खामोश धड़कने – Love Poetry

Heartbeat Poem – Love Poetry Heartbeat Poem संभल संभल कर चल रहा था तेरी मुहब्बत में! न जुबां बोलती थी, न धड़कनों पर था इख्तियार मेरा!! कदम-कदम पर वो एहसास तेरा , अदावते तेरी! हौले से कानों मे बुदबुदाती मिठी आवाज तेरी, उस छुअन का पहला अहसास और खामोश धड़कने मेरी!!