Poem on Relationship in Hindi – कितनी बार – Short Hindi Poem

Poem on Relationship in Hindi – Short Hindi Poem Poem on Relationship in Hindi कितनी बार चाँदनी लेकर चाँद खड़ा था राहों में कितनी बार पुकार तुमको भरकर अपनी आहों में कितनी बार बंद आँखों ने पाया तुम्हें निगाहों में कितनी बार कहा दिल ने भर लो मुझको बाँहों में

Sad Poetry in Hindi – कल रात – Hindi Kavita

Sad Poetry in Hindi – Hindi Kavita Sad Poetry in Hindi कल रात जकड़ लिया अंधेरों ने बेबसी को आलिंगन में बलात् कल रात बंद हो गई कराह, उजालों की मद्धम होते होते सड़क ने सुनी थी दर्द की चीख रोते रोते कल रात बुझ गई रौशनी अस्मिता बचाने के निर्णायक युद्ध में सुबह की

Man Poetry – आदमी – Poem About a Man With Integrity

Man Poetry – Poem About a Man With Integrity Man Poetry सियासत बता रही कि मुज़रिम है आदमी अपराध की गवाही से क़ातिल है आदमी पैबंद गुलामी का पैरहन में लगा कर आज़ाद मुल्क का यही हासिल है आदमी रहनुमा की बन्दिशों में दरिया की हलचलें लहरों की तमन्ना लिए साहिल है आदमी फिर भी

Budget Poem – बजट – Funny Poem in Hindi

Budget Poem in Hindi – Funny Poem in Hindi Budget Poem in Hindi बजट ज़िन्दगी की गणित में सपनों का मातम है दो जून की रोटी के जुगाड़ में इसकी कराह हर दिन रहती कायम है बजट विद्रूपता में लिपटी उम्मीदों का उत्सव है जहाँ आंकड़ों के कमाल से शतरंजी चाल से करिश्मों के भ्रम

Short Poem on Journey – बदलाव का सफ़र – Journey Of Life Poem

Short Poem on Journey – Journey Of Life Poem Short Poem on Journey बे वक़्त वक़्त हो तो सारे बदलते हैं नज़रों के फ़र्क़ से नज़ारे बदलते हैं आग़ाज़े सफ़र कर लो बंद मुट्ठियों का उंगलियों के फ़र्क़ से इशारे बदलते हैं मज़बूर कश्तियों को साहिल नहीं मिलता पतवार के फ़र्क़ से किनारे बदलते हैं

Poem on Globalization – वैश्वीकरण – Globalization Poems

Poem on Globalization – Globalization Poems Poem on Globalization सपने नहीं उगते भूख की बंजर ज़मीन पर आँतों की ऎंठनो का दर्द आँखों में उतर आता है और आक्रोश पेट के भूगोल में अक्सर बिखर जाता है समय, संवेदना और सरोकार सभी ने छला है जीने के प्रयास को देखते ही देखते ज़िन्दगी का चरित्र विज्ञापन

Poetry on Man – आदमी और सड़क – Poem About a Man With Integrity

Poetry on Man – Poem About a Man With Integrity Poetry on Man आती हुई लगती है सड़क जाती हुई लगती है सड़क सड़क कभी नहीं आती है सड़क कहीं नहीं जाती है सड़क बन जाती है सेतु किनारों की दूरियों हेतु आदमी कब सड़क बनेगा कब दूरियां कम करेगा आदमी का कद सड़क से

Dard E Dil – दर्द ए दिल – Heart Touching Love Poems in Hindi

Dard E Dil – Heart Touching Love Poems in Hindi Dard E Dil – दर्द ए दिल तेरी इक झलक ही काफी है मेरे जीने के लिए ! हवा का रूख ही काफी है आसमा को बरसने के लिए! बादलों की चादर जब ओढ़ लेती है आसमा , तड़प जाते है लोग रोशनी के लिए!

Feelings Poem – मुक्ति – Poem Feelings of Life

Feelings Poem – Poem Feelings of Life Feelings Poem कुछ बातें परे होती है द्वेष से राग से कुछ बातें अलग होती हैं हानि से लाभ से कुछ बातें मुक्त होती है मान से अपमान से परंतु मुक्त कहाँ हो पाता है मन कभी अपनी पहचान से  

Life Journey Poem – ये सफ़र कौन सा है – Short Poems About Life

Life Journey Poem – Short Poems About Life Life Journey Poem ये शहर कौन सा है ये बसर कौन सा है अजनबी सभी यहाँ ये असर कौन सा है न धूप है न तीरगी ये पहर कौन सा है धड़कनों मे बह रहा ये ज़हर कौन सा है शिकस्त साथ मे लिए ये गुज़र कौन

Lonely Poems – आलम ए तनहाई – Poem on Life in Hindi

Lonely Poems – Poem on Life in Hindi Lonely Poems उँचाइयाँ भी तनहा, हैं गहराइयाँ भी तनहा भीड़ मे रहकर सदा तनहाईयाँ भी तनहा रोशनी के मौसम मे हमकदम हरदम बने आगोश मे अंधेरों के परछाईयाँ भी तनहा जिनके सुरों ने भरा था ज़िंदगी मे रंग को कोने मे रहती पड़ी शहनाईयां भी तनहा भीगते

Hindi Short Poems – सब ख़ैरियत से हैं – Hindi Poem on Zindagi

Hindi Short Poems – Hindi Poem on Zindagi Hindi Short Poems सब ख़ैरियत से हैं दिए ग़म आपके हम भी नही थे किसी से कम आपके परछाईयाँ समेटकर दामन में तीरगी की मेरे पावं चल पड़े थे हम कदम आपके दिल को सुकून होता था सोच कर जिसे उसे देखकर चेहरे पे चढ़ा मातम आपके दिया

Short Hindi Poems – कविता की पहचान – Hindi Kavita

Short Hindi Poems – Hindi Kavita Short Hindi Poems धूमिल ने कहा था कविता भाषा मे आदमी होने की तमीज़ है शायद यह भी सच है कि कविता मन की एक तान है लेकिन आजकल कविता हर किसी की ज़ेब मे पड़ा अवसरों का आख्यान है पर कविता न तो पकवान है ना सामान है

Life Without You – ज़िंदगी उसके बिना – Hindi Poem on Zindagi

Life Without You – Hindi Poem on Zindagi Life Without You दर्द बढ़ता ही गया, शौक की इंतेहाँ न हुई गुलों का साथ था मगर, खुश्बू मेहरबाँ न हुई आँधियों की साज़िश मे, मौसम उलझ गया गुलशन उजड़ने की कभी, ऐसी दास्ताँ न हुई ख्वाब सब बिखर गये, खामोशियों के ख़ौफ़ से ज़िंदगी उसके बिना, इतना

Waiting Poem- प्रतीक्षा – Poem About Hope and Faith

Waiting Poem – Poem About Hope and Faith Waiting Poem आना ज़रूर उसी मोड़ पर अपने किंतु परंतु को पीछे छोड़कर सच है कि प्रतीक्षा की परछाईयाँ लंबी होने लगी हँ लेकिन तुम्हारा आना होगा उतना ही सच जैसे निकलता है सूरज तिमिर की दीवार तोड़कर हमारे मिलन को साक्षी होने को खड़ी उत्सुक दिशाएं मिल

Life Poems – ये चिराग कौन से हैं? – Short Poem About Life

Life Poems – Short Poem About Life Life Poems ये चिराग कौन से हैं, जल रहे कहाँ हैं परछाईयों की गिरफ़्त में रोशनी जहाँ है बेचारगी सिमट कर छिप रही अंधेरों में उजालों की इनायतें महलों पे मेहरबाँ हैं ला रहा हर तरफ उजालों का ख़ौफ़ कौन बस्तियाँ जलाकर बना सबका रहनुमा है सरताज रोशनी के

Zindagi Poems : ज़िंदगी – शायद – Hindi Poem on Zindagi

Zindagi Poems – Hindi Poem on Zindagi Zindagi Poems अपनी अपनी बातें हैं सबकी अपनी घाते हैं धुआँ जहाँ भी दिखता है अपने ही आग लगाते हैं प्रेम समर्पण दुनियादारी सब सुविधा की बातें हैं खुशफ़हमी की दुनियाँ में बे मौसम बरसातें हैं  

Hope Poems – काश – Short Love Poem in Hindi

Hope Poems – Short Love Poem in Hindi Hope Poems तेरा गम तुमसे भी पहले, मेरे जीवन मे शामिल हो मेरी खुशियों का हक़ तुमको,  मुझसे भी पहले हासिल हो जीवन की कश्ती के दोनों, मिल कर संग पतवार बनें मॅंझधार ज़माने की फ़ितरत, अपनी किस्मत में साहिल हो