New Year Poetry – अलविदा के सफ़र में – Poem on New Year in Hindi

New Year Poetry – Poem on New Year in Hindi New Year Poetry अलविदा के सफ़र में फिर एक साल है मायूसियाँ सर पर लिए फिरता मलाल है जा रहा दे कर हमें सौगात में तन्हाईयाँ ख्वाहिशें बाहों में पडीं, ख्वाब में विसाल है लबरेज़ मुखौटों में ख़ुशी फैली है हर तरफ शोर में सिसकियों का

Girl Love Poem – उस लड़की के नाम – Poem About a Girl You Love

Girl Love Poem – Poem About a Girl You Love Girl Love Poem अपरिचय के आकर्षण में सिमटी वह पहली मुलाक़ात जब संवादशून्यता का सेतु निःशब्द टूटा था औपचारिकता का बोध कॉफ़ी के प्यालों से मीलों पीछे छूटा था उसके आँखों की निर्मलता और हृदय की पारदर्शिता उसके आत्मविश्वास से सधी थी वह लड़की व्यवहार के

Poem Old Age – आखिरी पड़ाव – Poem About Growing Old

Poem Old Age – Poem About Growing Old Poem Old Age समय की शिला ने चेहरे पर झुर्रियों की छाप छोड़ दी है वक़्त के बहाव ने कमर भी कुछ तोड़ दी है व्यतीत के संस्मरण ही उनकी तन्हाइयों के साथ हैं सहारे को, काँपते हुए, बस अपने ही हाथ हैं मंझधार के खतरों से

Comparison Poetry – न्याय : अन्याय – Poem on Justice-Injustice

Comparison Poetry – Poem on Justice-Injustice Comparison Poetry हे देवीतुम्हारे तराजू का सन्तुलनलड़खड़ाने लगा हैलोकतन्त्र की आस्था का शक्तिशाली स्तम्भडगमगाने लगा हैकानून की अन्धी परम्परा सेनिर्णय, कानाफूसी करने लगा हैन्याय स्वयं, अपने निर्णयों से डरने लगा हैसत्य अब परेशान ही नहीपराजित भी हो रहा हैसत्यमेव जयते का अभिमानअपना विश्वास खो रहा हैअवमुक्त होना ही होगा, तुम्हारे

Find Love Poem – तलाश ए आरज़ू – Short Sweet Love Poem

Find Love Poem – Short Sweet Love Poem Find Love Poem कभी साथ तुम खड़े थे वक़्त की खिजाओं मेंज़ुल्फ़ों के पेंच अब भी मौज़ूद हैं हवाओं मेंदौर ए मोहब्बत की बाहों में तुम्हे पाया थाखुशबू तुम्हारी अब भी घुली है फ़िज़ाओं मेंकरता है इनकार दिल तुम बिन धड़कने सेराहतें मिलती नहीं कभी दर्द की दवाओं

Life Journey Poem – अंदाज़ ए रहनुमा – Poem on Life

Life Journey Poem – Poem About Life Journey Life Journey Poem बन्द आँख कर के जो बनता रहा अबोध हैचलने लगा है उसमें, कुछ अपराध बोध हैजीवन को कहाँ हासिल है दरिया की रवानीज़िन्दगी की राह में, हर मोड़ पर गतिरोध हैहर नज़र है बा अदब हर ज़ुबाँ भी खामोश हैरवायत ए निज़ाम शायद, ले रहा

BHU Case – BHU प्रकरण के संदर्भ में – Short Poem on Bravery

BHU Case – Short Poem on Bravery BHU Case अबला नहीं तुम जान लो, फरियाद करना छोड़ दो, हक़ अगर कोई छिने तो, हाथ उसका तोड़ दो, जीतना है रण अगर तो, कूद जा मैदान में, खींच ले तलवार अपनी, जो पड़ी म्यान में, आँसुओं से भींग न अब, रक्त की गंगा बहा, देख टिकता

Haiku Poem – विरही नार – Poem on Women in Hindi

Haiku Poem – Poem on Women in Hindi Haiku Poem विरही नार, पिया का इंतजार, करे श्रृंगार। प्यासी आँख, काजल कर शांत, निहोरे राह। अँधेरी रात, चमकती बिंदिया, पिया की याद। झूमे झुमका, लाता हवा का झोंका, पिया सन्देश। बिखरे बाल, नथुनिया कमाल, गुलाबी गाल। माँग का टीका, पाँवों में पैजनियाँ, गले में हार। आ जा

Funny Poem Hindi – कहते हैं की – Poem on Joy in Hindi

Funny Poem Hindi – Poem on Joy in Hindi Funny Poem Hindi कहते हैं कि है सीना उनकी छप्पन इंच की, पानी को तोड़ने में उनकी दांत टूट गई। चीनी सामानें इस कदर बाजार में छाये, हर शख्स डाइबिटीज के मरीज हो गए। स्वच्छता अभियान का इतना पड़ा असर, नहाने लगे साबुन को भी साबुन से

Heart Touching Poem – किसान – Poem on Farmer in Hindi

Heart Touching Poem – Poem on Farmer in Hindi Heart Touching Poem वह दीवाना मिट्टी का, मिट्ठी ले मिट्टी का, आलिंगन कर मिट्टी का, विभोर होता, डाल देता बीज, निषेचन को, पनप जाते हैं पौधे, भरे दानों से, फिर अपनी पैदावार को, ले आता बाजार, निर्मोही सा, सौंप देता आपके हाथ, सज जाती है आपकी थाली,

Feeling Love poem – अहसास – Poem Feelings of Love

Feeling Love poem – Poem Feelings of Love Feeling Love poem शमां ऐसे जला यारों, के जगमग हो जाए जहां, अगर दीपक बुझे कोई, तो फिर एहसास भी न हो। छलकती आँख तो यारो, बयां कर जाती दर्द-ए-दिल, टपक न पायें आंसू तो, कहाँ एहसास कुछ भी हो! गगन में कितने हैं तारे, सजाते कितने सपनों

Journey Life Poem – छोड़ जाउँगा – Short Poem on Journey

Journey Life Poem – Short Poem on Journey Journey Life Poem चला हूँ हौसला लेकर नई दुनियाँ बसाने को, फ़क़त इंसान को लेकर, शैतानों छोड़ जाउँगा| अगर मुराद हो तेरी कि खाएं इमान की रोटी, फिर तुम भी चले आना, बेईमानों छोड़ जाउँगा| अमन के तुम पुजारी हो तो फिर तुम भी चले आना, मगर ए

Inspirational Poem – शंखनाद – Poem on Hope and Faith

Inspirational Poem – Poem on Hope and Faith Inspirational Poem चल बढ़ साथी! छोडो विलाप, जरा और जोड़ से फूंक मार, करदे अब तू यह शंखनाद, लाने को एक नया प्रभात| पत्थर पिघले न आँसू से, अधिकार मिले न भीख माँग, अब छोड़ आश किन्हीं औरों से, चल बढ़ आगे सीने को तान| शोषक को न

Feelings Poem – मतवाला – Poem Feelings of Life

Feelings Poem – Poem Feelings of Life Feelings Poem जीवन पथ के हर एक मोड़ पर, मिलती नित्य नव मधुशाला, सजे हुए प्यालों की पंगत, भरे हुए भिन्न-भिन्न रस के| प्रेम, घृणा के प्याले हैं, तो, साम, दाम, दण्ड, भेद के भी, काम, क्रोध, धन, मान के  प्याले, हरि, ईश, अल्ला के भी, हर पथिक की

Marriage Poem – परिणय – Poem on Marriage in Hindi

Marriage Poem – Poem on Marriage in Hindi Marriage Poem ध्येय नहीं परिणय का बस, तन से तन का मिलन ही हो, प्रेम प्रगाढ़ होती है जब, मन से मन का मिलन भी हो| राह अलग और चाह भिन्न तो, परिणय सूत्र की उम्र कहाँ? पल-पल घेरे शक का घेरा, निर्वहन तब सम्भव कहाँ? रह-रह

Unwanted Marriage – अनचाही विवाह – Poem on Marriage in Hindi

Unwanted Marriage – Funny Poem on Marriage Unwanted Marriage गई जवानी, रच गई, कहानी एक दुखांत, प्रेम परायी हो गई, मिली परायी प्रेम. सहज नहीं बिसारना, गुजरे संग क्षण-पल, जीना भी दुष्कर हुआ, रख सहेज उस कल. इस दलदल में जो फंसे, भूले बीते बात, व्यर्थ मनोरथ पालना, पुनर्मिलन की आश. चित्त चंचल मत कीजिए, अब

Virtue Poem – पुण्य का रस्ता – Short Poem on Charity in Hindi

Virtue Poem – Short Poem on Charity in Hindi Virtue Poem भक्तो की अपार भीड़, छोटे-बड़े हर मंदिर, किसी की पूर्ण कामना, किसी की कुछ याचना, पूरे विधि-विधान से, अन्य कर्म-कांड से, देव को रिझा रहे, पाप को बहा रहे, पूण्य का यह रस्ता, सुगम, सरल व सस्ता!

Funny Poem – कोई किसी को फेंकू बोले – Poem on Joy in Hindi

Funny Poem – Poem on Joy in Hindi Funny Poem कोई किसी को फेंकू बोले, कोई किसी को पप्पू, और कोई बन पेंडुलम डोले, कोई हुआ है लट्टू, जिसको ज्योंही मौका मिलता, खूब उछालें कीचड़, हुआ हुआ का सूर मिलाये, जैसे वन के गीदड़, फेंकू,पप्पू बना मदारी, डुगडुगी जब बजाता, फिर देखो कैसे बन्दर बन, लोग

Affliction Poem – वेदना – Poem on Suffering And Pain

Affliction Poem – Poem on Suffering And Pain Affliction Poem है असीम वेदना! नहीं कोई संवेदना, अपनों के दिए रोग हैं, किसी जनम के भोग हैं, इस दर्द की दवा कहाँ? जो फैल रहा कर्क(केंसर) सा, पड़े है मँझधार में, निगाह है तलाश में, अन्त किसने है रचा? मिली कहाँ से है सजा? धार बड़ी तेज

Youth Poem – नई पीढ़ी – Poem About Youth Today

Youth Poem – Poem About Youth and Age Youth Poem नई पीढ़ी पर, इल्जाम लगते आ रहे, पीढ़ी-दर-पीढ़ी से, कभी कुसंस्कारी का, तो कभी कुलकलंकित का, तिरस्कार तो तब और बढ़ जाता है, जब रचता है वह चक्रव्यूह, अपने हीं माँ-बाप के बिरुद्ध, घर निकासी का, शायद, हम भूल जाते हैं कि, पैदा होता है आज