Coming Close – क़रीब आते है – Sad Poems About Love

Coming Close – Sad Poems About Love

Coming Close

क़रीब आते है, फिर बहुत दूर चले जाते हैं,
ये वही लोग हैं जो मुहब्बत में पलट जाते हैं।

किस किस को मैं अपनी वफ़ा का सबूत कहूँ,
आज कल घाव भी कुछ कहने से डर जाते हैं।

चाँद को रात भर यूँ आसमाँ में जलता छोड़ कर,
जाने इसके घर वाले किस और चले जाते हैं।

शोर तो हमने भी उतना ही किया था मगर,
लोग हैं कि अक्सर उनके कहने पे चले जाते हैं।