Triangle Love – तीन तरफ़ा मुहब्बत – Love Poetry in Hindi

Triangle Love – Love Poetry in Hindi

Triangle Love

हमने भी मुहब्बत की है
एक तरफ़ा नहीं
दो तरफ़ा नहीं
बल्कि तीन तरफ़ा की है।

हम भी उन्हें बहूत चाहते थे
वो भी हमें बहूत चाहती थीं
और हमारा खुदा
हमारी चाहत को बहूत चाहता था।

लेकिन
कुछ भूल हमने की
कुछ भूल उनसे भी हुई
और आज तक हम
उन्हीं भूलों की सज़ा भुगत रहे हैं।

Spread the love