Tag: Friendship Poetry

Advice Poem About Life – मैं यह नहीं चाहता – Poem on Faith

Advice Poem About Life – Poem on Faith Advice Poem मित्र ! मैं यह नहीं चाहता कि त्याग दो तुम अपनी महत्वाकांक्षा मगर एक मित्र के तौर पर तुम्हें यह सलाह जरूर देना चाहता हूँ कि तुम तय करो अपनी प्राथमिकताएं पहले । जानते हो क्यों क्योंकि प्राथमिकता विहीन व्यक्ति उस मीन की तरह होता

Friends Poem – Friendship Poetry – Friendship Poetry in English

Friends Poem – Friendship Poetry Friends Poem Life is useless, Life is a waste, Without a bitter, Educational taste. Schools, colleges, Compulsory boring trends, Are senseless, rustic, Without valuable friends. Friends are amazing, Friends are great, Making our life interesting, Our life-long mates. Friends are ones, Accompanying in our troubles, Enjoying our joys, Of our gaiety bubbles.

Friendship Poem in Hindi – हमारी दोस्ती – Poem on Friendship

Friendship Poem in Hindi Friendship Poem कितनी पुरानी है हमारी दोस्ती, सुनके सब हैरान हुआ करते है, कैसे निभा रहे अभी तक, सुनकर सब चौंक उठा करते है बारह साल की हो गई फिर भी मासूमियत से भरी है हमारी दोस्ती। सबके निगाहों को नूर सी, लगती है हमारी दोस्ती, स्कूल के पेडों से लेकर,