Zindgi Shayari in Hindi – जिंदगी शायरी – Shayari Life Hindi

Zindgi Shayari in Hindi

Zindgi Shayari

अजीब विडम्बना देखी है मैने, नयी साल मनाने वालो की,
खुश होते है, किसी के जाने पर, या खुश होते है, किसी के आने पर.

*******

ऐसी भी क्या जिंदगी, जिसमे खुशी ना गम हो,
गमो को झेलना, खुशी मे खेलना, यही तो जिंदगी हे.

*******

कल किसने देखा है, कल की कयो बात करते हो,
कल की सोच रखने वालो, आज कयो बरबाद करते हौ.

*******

फूल खिलता है चमन मे, गुलशन महकाता है,
लेखक लिखता है मन मे, कागज पर दशॅता है.

*******

कल आती नही, इंतज़ार करते रहो, बचपन बिता,
जवानी बिती, आया बुठापा तो, मरने का इंतज़ार करते रहो.

*******

हर दिन, हर रात, एक सी नही होती,
ना हर सुबह, हर शाम, एक सी नही होती,
हर दिन पतझड, हर दिन बहार नही होती,
महनत करने वालो की, कभी हार नही होती.


Please Like/Share To Encourage Our Authors:

Read more: